भारत-जॉर्डन ने किए रक्षा सहयोग समझौते पर हस्ताक्षर
03 Mar 2018
नई दिल्ली, 03 मार्च (धर्म क्रान्ति)। भारत और जॉर्डन ने आतंकवाद के खिलाफ संघर्ष, साइबर सुरक्षा, प्रशिक्षण, रक्षा उत्पादन सहित रक्षा क्षेत्र में व्यापक सहयोग साझीदारी के समझौते सहित 12 करारों पर आज हस्ताक्षर किये।

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और जॉर्डन के सुल्तान अब्दुल्ला द्वितीय बिन अल हुसैन के बीच यहां हैदराबाद हाउस में प्रतिनिधिमंडल स्तर की द्विपक्षीय बैठक में इन समझौतों पर हस्ताक्षर किए। इस मौके पर विदेश मंत्री सुषमा स्वराज, राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल, विदेश सचिव विजय गोखले मौजूद थे। रक्षा सहयोग समझौते के अंतर्गत दोनों देशों ने प्रशिक्षण, रक्षा उत्पादन, आतंकवाद निरोधक अभियान, सैन्य अध्ययन, साइबर सुरक्षा, सैन्य चिकित्सा सेवा, शांति स्थापना अभियानों में सहयोग का फैसला किया है।

इसके अतिरिक्त राजनयिक एवं आधिकारिक पासपोर्ट धारकों को वीजा से छूट देने, सांस्कृतिक आदान प्रदान, जॉर्डन में अनुबंध पर काम करने वाले भारतीय कर्मचारियों के हितों की रक्षा के लिए मानव संसाधन सहयोग बढ़ाने, स्वास्थ्य एवं औषधि क्षेत्र, सूचना प्रौद्योगिकी क्षेत्र में जॉर्डन में एक सेंटर ऑफ एक्सीलेंस स्थापित करने, फास्फेट एवं उवर्रक की आपूर्ति, सीमाशुल्क एवं कराधान सहयोग, आगरा एवं पेट्रा शहर के बीच मैत्री शहर करार, भारतीय जनसंचार संस्थान एवं जॉर्डन मीडिया संस्थान के बीच सहयोग, प्रसार भारती एवं जॉर्डन टीवी के बीच आदान प्रदान तथा जॉर्डन विश्वविद्यालय में हिन्दी की अध्ययन पीठ की स्थापना के करारों पर भी दस्तखत किये गये।

अन्य खबर