घृणात्मक हिंसा रोकने के लिए ट्रंप सरकार बनाए टास्क फोर्स

वाशिंगटन, 06 अप्रैल (धर्म क्रांति)। एक दर्जन से अधिक प्रभावशाली अमेरिकी सीनेटरों के द्विपक्षीय समूह ने अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प से देश में नफरत और अपराधों के बढ़ते मामलों के बीच घृणात्मक हिंसा से लड़ने के लिए एक टास्क फोर्स स्थापित करने को कहा है। सीनेटर ने 3 अप्रैल को लिखे अपने एक खत में कहा, ‘हम आपसे आग्रह करते हैं कि इस तरह के घृणात्मक हिंसा के लिए एक टास्क फोर्स का निर्माण किया जाए। उम्मीद है कि हम भी देश भर में नफरत में हो रही वृद्धि को रोकने के लिए आपके साथ काम करेंगे।’ सीनेटर मारिया कैंटवेल ने कहा, ‘अमेरिका भर में, हमने धार्मिक और नस्लीय अल्पसंख्यकों के खिलाफ हिंसा, धमकियों और नफरत को देखा है। पिछले महीने, केंट वाशिंटन में एक सिख अमेरिकी को घायल कर मार डाला गया था।’ मैंने और मेरे सहकर्मियों ने ट्रम्प से नेशनल पार्टी टास्क फोर्स बनाने के लिए आग्रह किया है। ताकि देश में नफरत और हिंसा को रोका जा सके।’ गौरतलब है कि 3 मार्च को गन मैन ने सिएटल के पास एक 39 वर्षीय सिख को गोली मारते हुए कहा था कि ‘अपने देश वापस जाओ’। वहीं 22 फरवरी को, भारतीय इंजीनियर श्रीनिवास को हमलावर ने ‘मेरे देश से निकल जाओ’ यह बोलते हुए जान से मार दिया था। 2017 के पहले तीन महीनों में संयुक्त राज्य अमेरिका में धार्मिक अल्पसंख्यकों के खिलाफ उत्पीड़न, धमकियों और हिंसा के कई मामले सामने आए। सिख गठबंधन के कार्यक्रमों के अंतरिम प्रबंध निदेशक राजदीप सिंह जॉली ने कहा, ‘हम अप्रिय हिंसा को रोकने के लिए ठोस कार्रवाई की सिफारिश करने के लिए सीनेटर कंटवेल और उनके सहयोगियों की सराहना करते हैं।’