राहुल सुधारेंगे जेडीयू से रिश्ते, नीतीश से करेंगे बात

नई दिल्ली, 05 जुलाई (धर्म क्रान्ति)। कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी गठबंधन में कड़वाहट और जेडीयू से रिश्ते सुधारने के लिए नीतीश कुमार से बात कर सकते हैं। राहुल गांधी के भारत वापस आते ही कांग्रेस ने जीएसटी समेत कई मसलों पर सरकार पर हमला बोल दिया है। सूत्रों के अनुसार इसके बाद राहुल गांधी मोर्चा संभालते हुए पिछले कुछ दिनों के दौरान जिस तरह से जेडीयू प्रमुख और बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने आरजेडी प्रमुख लालू यादव और कांग्रेस पर हमला किया है उस से गठबंधन में कड़वाहट देखी जा रही है। अब ये भी कहा जा रहा है कि नीतीश जल्द ही कोई बड़ा एलान कर सकते हैं। इसको देखते हुए राहुल गांधी स्वयं महागठबंधन के मद्देनजर रिश्ते सुधारने के लिए उनसे बातचीत कर सकते हैं। इसके बात के संकेत काफी दिनों से मिल रहे हैं। इससे पहले भी कांग्रेस आलाकमान ने पहल करते हुए राज्यसभा में विपक्ष के नेता गुलाम नबी आजाद को नीतीश कुमार से बात करने के लिए पटना भेजा था और नीतीश को मनाने का प्रयास किया था। दरअसल राष्ट्रपति चुनाव का मुद्दा हो या फिर जीएसटी का मुद्दा, नीतीश कुमार भाजपा के खेमे में खड़े दिख रहे हैं। इस बात से लालू यादव और कांग्रेस को परेशानी हो रही है। गठबंधन सहयोगी होने के बाद भी नीतीश अलग चाल क्यों चल रहे हैं। इस बात को लेकर लालू समेत कांग्रेस के बड़े नेता तक नीतीश पर हमला कर चुके हैं। नीतीश ने अभी तक गठबंधन के सहयोगियों के हमले का कोई जवाब नहीं दिया था लेकिन उनके लगातार कांग्रेस विरोधी बयानों से गठबंधन में हलचल मची हुई है। नीतीश कुमार ने सोमवार को कहा कि हमें कांग्रेस से कुछ भी सीखने की जरूरत नहीं है।