रांची टेस्ट: भारत के दो विकेट पर 193 रन

रांची, 18 मार्च (धर्म क्रांति)। सलामी बल्लेबाज मुरली विजय ने सुबह के सत्र के अंतिम लम्हों में अपना विकेट गंवाया जिसके बावजूद भारत ने आस्ट्रेलिया के खिलाफ तीसरे क्रिकेट टेस्ट के तीसरे दिन लंच तक पहली पारी में दो विकेट पर 193 रन बनाए। कंधे की चोट के बाद वापसी कर रहे विजय अपने 50वें टेस्ट में शतक की ओर बढ़ रहे थे लेकिन 82 रन के निजी स्कोर पर पहले सत्र के अंतिम ओवर में बायें हाथ के स्पिनर स्टीव ओकीफी की गेंद को आगे बढ़कर खेलने की कोशिश में चूक गए और विकेटकीपर मैथ्यू वेड ने उन्हें स्टंप कर दिया। विजय ने 183 गेंद की अपनी पारी के दौरान 10 चौके और एक छक्का लगाया। विजय के आउट होने के साथ ही अंपायरों ने लंच घोषित कर दिया। चेतेश्वर पुजारा 40 रन बनाकर खेल रहे हैं। भारत अब भी आस्ट्रेलिया से 258 रन से पीछे है जिसने पहली पारी में 451 रन बनाए थे। भारत ने दिन की शुरूआत एक विकेट पर 120 रन से की और पुजारा तथा विजय की बदौलत सुबह के सत्र में अधिकांश समय आस्ट्रेलिया गेंदबाजों को सफलता से महरूम रखा। दोनों ने दूसरे विकेट के लिए 102 रन जोड़े। इस घरेलू सत्र में विजय और पुजारा के बीच 10 टेस्ट में यह छठी शतकीय साझेदारी है। दोनों ने सुबह धैर्य के साथ बल्लेबाजी की लेकिन विजय लंच से पहले के अंतिम ओवर की चौथी गेंद को आगे बढ़कर खेलने की कोशिश में स्टंप हो गए। भारत ने धीमी शुरूआत की लेकिन उसके बाद विजय और पुजारा ने कुछ आकर्षक शाट खेले। आस्ट्रेलिया ने दिन की शुरूआत तेज गेंदबाज जोश हेजलवुड और बायें हाथ के स्पिनओकीफी के साथ की। विजय ने ओकीफी के पहले ओवर में ही लांग आन पर छक्का जड़ा। विजय ने ओकीफी पर एक रन के साथ 129 गेंद में अर्धशतक पूरा किया। विजय का डिफेंस ठोस था जबकि वह कमजोर गेंदों के खिलाफ आगे बढ़कर शाट खेलने से भी नहीं हिचके। पुजारा हालांकि 22 रन के निजी स्कोर पर भाज्ञशाली रहे जब ओकीफी ने उनके खिलाफ पगबाधा की विश्वसनीय अपील की। अंपायर ने उन्हें नाटआउट करार दिया जिसके बाद आस्ट्रेलिया ने अपना दूसरा रिव्यू लिया। तीसरे अंपायर क्रिस गैफनी ने भी पुजारा को नाटआउट करार दिया। पुजारा का बल्ले का अंदरूनी किनारा गेंद से लगा था लेकिन यह पुष्टि नहीं हो पाई कि गेंद पहले बल्ले से टकराई या पैड से जिससे अंपायर का फैसला कायम रहा। आफ स्पिनर नाथन लियोन ने अगली ही गेंद पर विजय के खिलाफ शार्ट लेग पर कैच की अपील की और इस बार भी अंपायर ने बल्लेबाज को नाटआउट करार दिया। अंपायर इयान गोल्ड के फैसले के खिलाफ आस्ट्रेलिया रैफरल नहीं ले पाया क्योंकि वह अपने दोनों रैफरल का इस्तेमाल कर चुका था। रीप्ले में हालांकि दिखा कि गेंद विजय के बल्ले का किनारा लेकर क्षेत्ररक्षक के हाथों में गई थी। विजय इस समय 58 रन बनाकर खेल रहे थे।