जोशीमठ के बाद अब उत्तर प्रदेश में भी जमीन धंसने की तस्वीरें सामने आई है।
14 Jan 2023, 85
ठाकुरद्वारा में धंसने लगी जमीन,मकानों में आई दरारें,पानी की सप्लाई बंद

बागपत।जोशीमठ के बाद अब उत्तर प्रदेश में भी जमीन धंसने की तस्वीरें सामने आई है।अलीगढ़ के बाद बागपत शहर के ठाकुरद्वारा मोहल्ले में भी जमीन धंसने और मकानों में दरार आने का सिलसिला जारी है।मकानों में दरार और जमीन धंसने से लोगों में दहशहत फैल गई है और रात में सोते समय भी डर रहे है। वहीं मकानों में दरार आने पर प्रशासनिक अधिकारी जांच के लिए पहुंचे।

मिली जानकारी के अनुसार बागपत शहर के ठाकुरद्वारा मोहल्ले में कई महीने पहले मकानों में दरार आनी शुरू हुई थी।उस समय लोगों ने इसे गंभीरता से नही लिया,लेकिन अब हालत और अधिक खराब हो गई है।बताया जा रहा है कि मकानों के फर्श धंसने लगे और दरारें बड़ी होने लगी है।इसके बाद लोगों ने दीवारों के आसपास खुदाई कराई और एक मकान की दीवार के नीचे पानी बहता हुआ दिखा। लोगों का मानना है कि गैस पाइप लाइन दबाने के बाद से पेयजल लाइन जर्जर होने लगी और जगह-जगह से टूट गई।जिसके कारण जमीन के नीचे लगातार पानी का रिसाव हो रहा है और जमीन धसने लगी है।

ठाकुरद्वारा मोहल्ले में बुधवार को पूर्व चेयरमैन पवन गुप्ता वाली गली और उसके पास ही दूसरी गली में लगभग 25 लोगों के मकानों का फर्श धंस गया और मकानों में दरार आ गई थी। वहीं अब ठाकुरद्वारा मोहल्ले की मस्जिद वाली गली में कई मकानों में दरारें आनी शुरू हो गईं।जिससे स्थानीय लोगों में दहशत है।

ऐसी भी जानकारी आ रही है कि घरों में दरार आने से लोग अपने-अपने घरों को खाली कर रहे हैं। जमीन धंसने और मकानों में दरारे आने की सूचना नगर पालिका प्रशासन को दे दी गई है। नगर पालिका प्रशासन की ओर से घरों की स्थिति की जांच की जानी है।

इस मामले में नगर पालिका के अधिशासी अधिकरी राजेश राणा ने कहा है कि हम अपनी टीम भेजेंगे और जांच की जाएगी कि ऐसा क्यों हुआ। वहीं अतिरिक्त जिला मजिस्ट्रेट ने बताया कि जिले के ठाकुरद्वारा क्षेत्र में चार से पांच घरों में दरारें देखी गई हैं। उन्होंने बताया कि प्रशासन मामले की जांच कर रहा है। जल्द ही इस समस्या का कारण और समाधान ढूंढा जाएगा।

चर्चित वीडियो
अन्य खबर