शादी की अजब-गजब परंपरायें और रीति-रिवाज
23 Aug 2016
शादी की अहमियत दुनिया के हर देश में हैं। इसलिए हर देश में शादी करने के तरीके भी काफी अलग-अलग और दिलचस्प हैं।
दाएं हाथ में रिंग : पूर्व देशों के लोगों के लिए सगाई की अंगूठी काफी मायने रखती हैं जिसे कि वे बांए की बजाय दाएं हाथ की तीसरी अंगुली में पहनते हैं। इसके पीछे कारण उनका धर्म है क्योंकि ऐसा माना जाता है कि सारे शुभ और धार्मिक काम हम दाएं हाथ से ही करते हैं इसलिए सगाई भी दाएं हाथ से होनी चाहिए। तीसरी अंगुली इसलिए क्योंकि इसकी नस सीधे दिल तक पहुंचती है।
मोजे के किनारे काटना : यह शादी के वक्त होता है जब शादी करने वाला लड़का ब्रेकफास्ट करता है। उसके ठीक बाद उसके दोस्त उसके पहने मोजे के किनारे काट देते हैं। इसके पीछे कारण यह बताया जाता है कि मोजे काटने की वजह से लड़का कभी भी अपनी बीवी को अकेले छोड़कर कहीं नहीं जायेगा।
सेज पर छोट बच्चा : पूर्व देशों में शादी की सेज पर घर-परिवार की ओर से छोटे बच्चे( जिसकी उम्र 1 साल से कम हो) को 5 मिनट के लिए लिटाया जाता है ताकि नये जोड़ों को जल्दी से संतान सुख मिले।
ताला लगाना : पूर्वी देशों में शादी के बाद नये जोड़े को एक सूखे पेड़ पर जंजीर बांधकर उसपर ताला लगाना होता है और उसकी चाभी को जंगल या नदी में फेंकनी होती है ताकी दोनों का आने वाला जीवन प्यार और भरोसे से बना रहे और उसमें किसी तीसरे की जगह ना हो।