प्रो कबड्डी लीग: प्रदीप का रिकार्ड प्रदर्शन, पटना एलिमिनेटर-3 में
25 Oct 2017
मुंबई, 25 अक्टूबर (धर्म क्रान्ति)। कप्तान प्रदीप नरवाल और अपने डिफेंस के बेहतरीन प्रदर्शन के दम पर पटना पाइरेट्स ने सोमवार को हरियाणा स्टीलर्स को यहां के एनएससीआई-एसवीपी स्टेडियम में खेले गए प्रो कबड्डी लीग (पीकेएल) के सीजन-5 के एलिमिनेटर-2 में 69-30 से मात देते हुए एलेमिनिटेर-3 में जगह बना ली है। एलिमिनेटर-3 में पटना का सामना पुणेरी पल्टन से होगा जिसने सोमवार को ही एलिमिनेटर-1 में यूपी योद्धा को मात देते हुए एलिमिनेटर-3 में प्रवेश किया। हरियाणा और यूपी लीग से बाहर हो चुकी हैं। लीग के कार्यक्रम के मुताबिक, 24 अक्टूबर को क्वालीफायर-1 और एलिमिनेटर-3 के मुकाबले खेले जाएंगे। क्वालीफायर-1 में जोन-ए में शीर्ष पर काबिज गुजरात फार्च्यूनजाएंट्स और जोन-बी में शीर्ष पर काबिज बंगाल वॉरियर्स की टीमें आपस में भिड़ेंगी। गुजरात और बंगाल के बीच होने वाले मुकाबले की विजेता टीम सीधे फाइनल में प्रवेश करेगी, वहीं हारने वाली टीम को फाइनल में जाने का एक और मौका मिलेगा। इस टीम को एलिमिनेटर-3 में जीतने वाली टीम से क्वालीफायर-2 में भिड़ना होगा और इसमें जो जीतेगा, वही फाइनल में जाएगा। फाइनल 28 अक्टूबर को चेन्नई में खेला जाएगा। क्वालीफायर-2 भी चेन्नई में ही होगा। पटना की जीत में एक बार फिर उसके कप्तान और स्टार रेडर प्रदीप की अहम भूमिका रही। प्रदीप ने इस मैच में रिकार्ड प्रदर्शन किया। उन्होंने इस मैच में 32 रेड डाली और 34 अंक लिए। वह लीग के एक मैच में सबसे ज्यादा रेड अंक हासिल करने वाले खिलाड़ी बन गए हैं। इसके साथ ही प्रदीप ने इस मैच में एक रेड में सबसे ज्यादा अंक लेने का रिकार्ड भी अपने नाम किया। उन्होंने इस मैच में 31वें मिनट में एक रेड में आठ अंक जुटाए जो एक रिकार्ड है। प्रदीप ने इस लीग में कुल रेड अंकों के मामले में 300 का आंकड़ा पार कर लिया है। उन्होंने लीग के इस सीजन में अभी तक कुल 308 अंक हासिल किए हैं। वह लीग के एक सीजन में सबसे ज्यादा अंक लेने वाले खिलाड़ी भी बन गए हैं। मजबूत डिफेंस वाली हरियाणा ने शुरुआत तो अच्छी की और पटना को कड़ी चुनौती दी। चौथे मिनट तक दोनों टीमें 4-4 से बराबरी पर थीं। प्रदीप ने सफल रेड डालते हुए पटना को एक अंक से आगे कर दिया। प्रदीप ने इसके बाद हरियाणा को आगे नहीं बढ़ने दिया और लगातार सफल रेड डालते हुए पहले हाफ का अंत 22-15 की बढ़त के साथ किया। लीग में हरियाणा के इस मैच से पहले के प्रदर्शन को देखते हुए उम्मीद थी कि वह वापसी करेगी लेकिन दबाव में वह बिखर गई और पटना खासकर प्रदीप के बेहतरीन खेल के आगे वह समय बीतने के साथ पीछे होती चली गई। इस मैच में हरियाणा की हार के एक प्रमुख कारण उसके मुख्य डिफेंडर सुरेंद्र नाडा का न चलना रहा। पटना ने 24वें मिनट में दीपक कुमार दहिया की रेड को असफल करते हुए हरियाणा को ऑल आउट कर दिया था। पटना का स्कोर 31-21 था। यहां से हरियाणा लगातार अंक गंवाती रही और अगले पांच मिनट में पटना ने उसे एक और बार ऑल आउट करते हुए स्कोर 42-32 कर लिया था। यहां से हरियाणा की हार लगभग तय लग रही थी। प्रदीप ने पटना की झोली में रेड अंक डालने जारी रखे और हरियाणा को लीग से बाहर का रास्ता दिखाया।

अन्य खबर