पाकिस्तानी सेना ने इस वर्ष 105 बार संघर्ष विराम का उल्लंघन किया: बीएसएफ
24 Oct 2017
जम्मू, 24 अक्टूबर (धर्म क्रान्ति)। पाकिस्तानी सेना ने इस वर्ष जम्मू एवं कश्मीर में 200 किलोमीटर लंबे अंतर्राष्ट्रीय सीमा पर 105 बार संघर्ष विराम का उल्लंघन किया। सीमा सुरक्षा बल( बीएसएफ) ने सोमवार को यह जानकारी दी। एक वरिष्ठ बीएसएफ अधिकारी ने मीडिया को बताया कि इस दौरान एक महिला का निधन हुआ और एक बीएसएफ जवान शहीद हुए। संघर्ष विराम उल्लंघन में 19 अन्य घायल हुए जिनमें 12 नागरिक और सात बीएसएफ जवान शामिल हैं। जम्मू एवं कश्मीर के बीच 200 किलोमीटर की अंतर्राष्ट्रीय सीमा है, भारतीय पक्ष से इसकी रक्षा बीएसएफ जवान करते हैं और पाकिस्तान तरफ से उनके रैंजर्स अपनी सीमा की रक्षा करते हैं। अधिकारी ने बताया कि जब पाकिस्तानी रैंजर्स नागरिक प्रतिष्ठानों को निशाना बनाने लगे तो सीमा के पास से करीब 10,000 निवासियों को अस्थायी रूप से उनके घरों से हटाना पड़ा। वर्ष 2002 के बाद पाकिस्तान ने लगभग 12,000 बार संघर्ष विराम का उल्लंघन किया है और इस दौरान 313 लोग मारे गए जिसमें 144 जवान भी शहीद हुए। उन्होंने बताया, संघर्ष विराम का सबसे ज्यादा उल्लंघन वर्ष 2002 में किया गया था। इस दौरान यहां 8,376 बार संघर्ष विराम उल्लंघन किया गया और उसके बाद वर्ष 2003 में 2,045 बार संघर्ष विराम का उल्लंघन किया गया था। भारत और पाकिस्तान ने नवंबर 2003 में नियंत्रण रेखा और अंतर्राष्ट्रीय सीमा पर संघर्ष विराम के संबंध में समझौते पर हस्ताक्षर किए थे। समझौते के बाद लगभग चार वर्षो तक सीमा पर शांति बनी रही थी।

अन्य खबर