लाल किले की प्राचीर से पीएम मोदी ने किया स्वतंत्रता सेनानियों को याद
15 Aug 2022
लाल किले की प्राचीर से पीएम मोदी ने किया स्वतंत्रता सेनानियों को याद

भारत के आजाद हुए 75 वर्ष पूरे हो गए हैं। आजाद हिंदुस्तान आज अपने स्वतंत्रता के 76वें वर्ष में प्रवेश कर चुका है, आजादी के इस अमृत काल में पीएम मोदी ने लाल किले की प्राचीर से 9वीं बार तिरंगा फहराया और राष्ट्र को संबोधित किया। अपने संबोधन में पीएम मोदी ने स्वतंत्रता संग्राम के उन महान विभूतियों को याद किया, जिनकी वजह से आज हम खुली हवा में सांस ले पा रहे हैं।

कर्तव्य पथ पर चलकर सेनानियों ने प्राण की आहुति दी

पीएम ने लाल किले की प्राचीर से इस बात पर जोर देते हुए देशवासियों को अवगत कराया कि असंख्य लोगों ने अपने कर्तव्य पथ पर चलते हुए देश को आजादी दिलाई है। उन्होंने कहा बापू, नेताजी सुभाष चंद्र बोस, बाबासाहेब अम्बेडकर,वीर सावरकर के प्रति हम सब आभारी हैं।

क्रांतिवीरों का आभारी है देश

पीएम मोदी ने कहा मंगल पांडे, तात्या टोपे, भगत सिंह, सुखदेव, राजगुरु, चंद्रशेखर आजाद, अशफाक उल्ला खान, राम प्रसाद बिस्मिल जैसे क्रांतिकारियों ने अपने कर्तव्य पथ पर चलते हुए ब्रिटिश शासन की नींव हिला दी। ऐसे क्रांति वीरों के लिए आज देश उनका आभारी है। पीएम ने इस कड़ी में राजेंद्र प्रसाद, जवाहरलाल नेहरू और सरदार वल्लभभाई पटेल सहित अन्य राष्ट्र निर्माताओं को भी श्रद्धांजलि दी।

ऐसा कोई कोना नहीं है जहां जंग न हुई हो

औपनिवेशिक काल का जिक्र करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि हिंदुस्तान का ऐसा कोई कोना नहीं था जहां गुलामी के खिलाफ जंग न की गई हो। उन्होंने कहा कि असंख्य क्रांतिकारी थे, जिन्होंने अन्याय के खिलाफ आवाज उठाई। देशवासियों से अपील करते हुए पीएम ने कहा कि अगर आपके मन में गुलामी का थोड़ा भी भाव है, उसे बाहर निकाल फेंकिए और नए भारत के सपनों को साकार करने में जुड़ जाइए।

PBNS

अन्य खबर