आम जनता के लिए खुला भारत अंतरराष्ट्रीय व्यापार मेला, जानें कहां से मिलेगा टिकट
19 Nov 2022
आम जनता के लिए खुला भारत अंतरराष्ट्रीय व्यापार मेला, जानें कहां से मिलेगा टिकट

दिल्ली में इन दिनों 'भारत अंतरराष्ट्रीय व्यापार मेले' की धूम मची है। इसे 'इंडिया इंटरनेशनल ट्रेड फेयर' (IITF-2022) के नाम से भी जाना जाता है। प्रगति मैदान में आयोजित 41 वां भारत अंतरराष्ट्रीय व्यापार मेला शनिवार से आम जनता के लिए खुला है। हर साल अंतरराष्ट्रीय व्यापार मेला देखने के लिए भारी भीड़ जुटती है।

यहां लगी देशी-विदेशी प्रदर्शनियां दर्शकों को खूब लुभाती है। यहां लोग न केवल प्रदर्शनियों के मनोरम नजारे देखने को पहुंचते हैं बल्कि कई लोग इस दौरान खूब खरीदारी भी करते हैं। इस व्यापार मेले की खासियत यह है कि यहां देश के तमाम छोटे-बड़े खरीददार से लेकर व्यापारी, कारोबारी भी जुटते हैं। ऐसे में आइए विस्तार से भारत अंतरराष्ट्रीय व्यापार मेले के बारे में जानते हैं...

व्यापार मेले की थीम

इसका उद्घाटन केंद्रीय वाणिज्य एवं उद्योग मंत्री पीयूष गोयल ने 14 नवंबर को किया था। इस वर्ष के व्यापार मेले का विषय 'निवेश का अमृतकाल' है। व्यापार मेले की थीम 'वोकल फॉर लोकल, लोकल टू ग्लोबल' है। इस बार मेले में दर्शकों को आजादी के अमृत महोत्सव की झलक भी देखने को मिल रही है। इस बार अलग-अलग हॉल में अलग-अलग राज्यों के पवेलियन बनाए गए हैं। पहली बार 73 हजार वर्ग मीटर क्षेत्रफल में मेले का आयोजन हो रहा है। इसमें शामिल 29 राज्य और केंद्र शासित प्रदेशों के पवेलियन में वहां के हथकरघा और लोक संस्कृति की झलक दिख रहीं है। राज्यों के पवेलियन में हस्तशिल्प के स्टॉल अधिक संख्या में हैं।

इनमें उत्तर प्रदेश की गुलाबी मीनाकारी, राजस्थान की कठपुतली, मिनी पपेट, बिहार की सिकि डालिया, सिंदूरदानी, बक्सा और विलुप्ति के कगार से वापस लौटती काष्ट कला लोगों के आकर्षण का केंद्र बन रही है। वहीं लद्दाख की लोक संस्कृति को दिखाता हुआ केंद्र शासित प्रदेश का पवेलियन पहली बार मेले का हिस्सा बना है।

प्रवेश का समय सुबह 10:00 बजे से शाम 07.30 बजे

इस संबंध में भारतीय व्यापार संवर्धन संगठन (ITPO) ने जानकारी दी कि आम जनता के लिए मेले में प्रवेश करने का समय आज सुबह 10:00 बजे से लेकर शाम 07:30 बजे तक है। अंतिम दिन 27 नवंबर को प्रवेश का समय सुबह 10:00 बजे से शाम 04:30 बजे तक रहेगा।

हर दिन मेले में कितने दर्शकों को प्रवेश की व्यवस्था

हर दिन मेले में एक बार में 30 से 35 हजार दर्शकों को प्रवेश देने की योजना बनाई गई है। प्रगति मैदान के प्रवेश द्वार पर टिकट की बिक्री नहीं हो रही है। इस संबंध में भारतीय व्यापार संवर्धन संगठन ने कहा है कि आम जनता को असुविधा से बचाने के लिए इसकी अलग से व्यवस्था की गई है।

यहां से टिकट खरीद पाएंगे दर्शक

दरअसल, इस बार दर्शक मेट्रो स्टेशनों और आईटीपीओ की वेबसाइट पर ऑनलाइन टिकट खरीद सकते हैं। इसके लिए टिकट खरीदने की सुविधा दी गई है। सुप्रीम कोर्ट मेट्रो स्टेशन को छोड़कर 67 चुनिंदा मेट्रो स्टेशनों पर इसके लिए टिकट की बिक्री की जा रही है।

टिकट कितने का है ?

67 मेट्रो स्टेशनों पर मिलने वाले ट्रेड फेयर का वीकेंड पर टिकट रेट सामान्य दिनों से अधिक दाम वाला का होगा। वीकेंड पर वयस्कों के लिए टिकट 150 रुपए और बच्चों के लिए 80 रुपए का मिलेगा जबकि सामान्य दिनों पर वयस्कों के लिए 80 रुपए और बच्चों के लिए 40 रुपए का टिकट मिलेगा।

पार्किंग और एंट्री कहां से...

इस बहुचर्चित मेले को देखने-घूमने प्रोग्राम बनाया है तो ये भी जान लें कि यदि आप गाड़ी से आ रहे हैं, तो पार्किंग कहां है..? अपनी गाड़ी से मेले में आने वाले दर्शकों की सुविधा हेतु प्रगति मैदान के सामने भैरो मंदिर के बगल में पार्किंग की सुविधा दी गई है।

कब से कब तक चलेगा ट्रेड फेयर ?

आजादी के 75वें वर्ष में आयोजित 41वां व्यापार मेला की शुरुआत 14 नवंबर को हुई थी। यह मेला 27 नवंबर तक चलेगा। 14 दिवसीय इस मेले में शुरुआती पांच दिन व्यापारी दर्शकों के लिए खुले थे।

PBNS

अन्य खबर